मुख्यमंत्री पंजाब आज पहुंचेंगे सचिवालय: अफसरों से पंजाब संबंधी मुद्दों पर करेंगे मीटिंग; शहीद कर्नल के परिजनों से कर सकते हैं मुलाकात

Punjab

  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Punjab Chief Minister Bhagwant Mann Meeting Punjab Officers Secretariat Chandigarh Today; Chief Minister Can Meet Family Members Martyr Colonel Manpreet Singh Resident New Chandigarh Mohali Punjab

चंडीगढ़41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री पंजाब भगवंत मान की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar

मुख्यमंत्री पंजाब भगवंत मान की फाइल फोटो।

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान मध्यप्रदेश से लौट आए हैं। आज वह चंडीगढ़ स्थित पंजाब सचिवालय में अफसरों से प्रदेश संबंधी विभिन्न मुद्दों पर मीटिंग करेंगे। इसके अलावा मुख्यमंत्री अनंतनाग में शहीद हुए मोहाली के मुल्लांपुर निवासी शहीद कर्नल मनप्रीत सिंह के परिजनों से भी मुलाकात कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री भगवंत मान लगातार पड़ोसी राज्यों में AAP संयोजक अरविंद केजरीवाल के साथ चुनाव संबंधी रैली और चुनाव प्रचार में व्यस्त रहे। आज वह चंडीगढ़ स्थित सचिवालय पहुंचकर अफसरों से मीटिंग कर विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे। इसके अलावा दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में मोहाली के गांव भड़ोंजिया के रहने वाले 41 वर्षीय दिवंगत शहीद मनप्रीत सिंह के परिवार से मुलाकात कर सकते हैं।

पंजाब सरकार देगी एक करोड़ एक्स ग्रेशिया ग्रांट
पंजाब सरकार शहीद मनप्रीत सिंह के परिवार को एक करोड़ रुपए की एक्स ग्रेशिया ग्रांट भी देगी। मुख्यमंत्री भगवंत मान को शहीद कर्नल मनप्रीत सिंह के परिवार को एक्स ग्रेशिया ग्रांट का चेक सौंपना है। लेकिन फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि मुख्यमंत्री इस सम्मान राशि का चेक शहीद के परिवार को आज ही सौंपेंगे या कुछ दिन बाद।

13 सितंबर को आतंकियों से मुठभेड़ में हुए शहीद
गौरतलब है कि 13 सितंबर को आतंकियों से मुठभेड़ में न्यू चंडीगढ़ के कर्नल मनप्रीत सिंह शहीद हो गए थे। शहीद का अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव भड़ौजियां में सैन्य सम्मान के साथ कर उन्हें विदाई दी गई। शहीद के 7 साल के बेटे कबीर ने सैनिक की वर्दी पहनकर पिता को मुखाग्नि दी और आखिरी बार बस इतना कहा- पापा जय हिंद।

पंजाब गवर्नर ने दी श्रद्धांजलि
शहीद कर्नल की अंतिम यात्रा को घर से 200 मीटर की दूरी तय करने में 20 मिनट लगे। पंजाब के गवर्नर बनवारी लाल पुरोहित भी शहीद कर्नल मनप्रीत सिंह को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे। शहीद की पार्थिव देह के दर्शन के लिए भड़ौजियां में उनके घर के बाहर लोगों की भारी भीड़ लगी थी। कर्नल की अंतिम यात्रा जिस रास्ते से गांव पहुंचनी थी, उसे गांव वालों ने खुद साफ कर फूल बरसाए थे।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *